भाखड़ा ब्यास प्रबन्ध बोर्ड

भाखड़ा ब्यास प्रबन्ध बोर्ड
सर्च

विद्युत खंड

विद्युत खण्‍ड

सदस्‍य (विद्युत) के पश्‍चात संगठनात्‍मक अनुक्रम में आगे मुख्‍य अभियन्‍ता आते हैं, जो अधीक्षण अभियन्‍ताओं / निदेशकों / वरिष्‍ठ कार्यकारी अभियन्‍ताओं / उप-निदेशकों तथा सहायक अभियन्‍ताओं के सहयोग से सम्‍बन्धित कार्यालय के मुखिया हैं । विद्युत खण्‍ड में निम्‍नलिखित मुख्‍य अभियन्‍ता हैं, उनका मुख्‍य अधिकार क्षेत्र / उत्‍तरदायित्‍व नीचे दी गई सूची अनुसार वर्णित है :

  • इंजी. सर्वजीत सिंह डडवाल

    इंजी. सर्वजीत सिंह डडवाल मुख्‍य अभियन्‍ता (उत्‍पादन)

    इंजी. सर्वजीत सिंह डडवाल

    इंजी. सर्वजीत सिंह डडवाल

    मुख्‍य अभियन्‍ता (उत्‍पादन)

    ई0 सर्बजीत सिंह डडवाल ने 24.9.2021 को मुख्‍य अभियंता/उत्‍पादन, बीबीएमबी, नंगल के रूप में कार्यभार संभाला । उनकी तत्‍काल पूर्ववर्ती पोस्टिंग उप मुख्‍य अभियंता, भाखड़ा विद्युत गृह परिमंडल बीबीएमबी, नंगल के पद पर हुई थी । वे जुलाई, 2017 से बीबीएमबी में प्रतिनियुक्‍ति पर कार्यर‍त हैं ।

    शैक्षणिक योग्‍यता: इन्‍होंने पंजाब विश्‍वविद्यालय के अंतर्गत गुरु नानक देव इंजीनियरिंग कॉलेज, लुधियाना से इलैक्‍ट्रीकल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्‍त की ।

    कार्य अनुभव: उन्‍होंने अपने 34 वर्षीय लंबे व्‍यवसायिक कैरियर में से 30 वर्षों (अभी भी जारी) का भारत व विदेशों की विभिन्‍न विद्युत परियोजनाओं में कार्य करने का अनुभव प्राप्‍त किया । उनका उत्‍कृष्‍ट कौशल विवरण निम्‍न अनुसार है:-

    जेसीटी पोलिस्‍टर फाईबर:  (पीएसईबी अब पीएसपीसीएल) में कार्य ग्रहण करने से पूर्व इन्‍होंने थापर ग्रुप के अंतर्गत पोलिस्‍टर फाईबर यूनिट में इरैक्‍शन, टेस्टिंग व कमिश्‍निंग के कार्य में सहायोगी रहे।

    मुकेरियां हाईडल प्रोजैक्‍ट (पीएसपीसीएल के अधीन), हाजीपुर (45 मै.वा.): अप्रैल 1991 से जुलाई 1997 तक ऑपरेशन एवं मेंटिनैंस का कार्य देखा

    रणजीत सागर बांध, शाहपुरकंडी (पीएसपीसीएल के अधीन), पठानकोट (600 मै. वा.): जुलाई 1991 से फरवरी 2004 तक इरैक्‍शन, टेस्टिंग व कमिश्‍निंग के कार्य में सहयोगी रहे।

    ताला आईड्रो प्रोजैक्‍ट, प्राधिकरण, भुटान (1020 मै.वा.): फरवरी 2004 में जुलाई 2008 तक प्रतिनियुक्ति पर इस अतिविशेष परियोजना पर इरैक्‍शन, टेस्टिंग, कमिश्‍निंग, ऑपरेशन एवं मेंटीनैंस से संबंधित कार्यों पर आसीन रहे।

    गुरु गोविंद सिंह सुपरथर्मल प्‍लांट (पीएसपीसीएल), रूपनगर (1260 मै.वा.): जुलाई, 2008 से अप्रैल 2011 तक प्रापण व मैट्रियल प्रबंधन का कार्य किया।

    पनसागछू हाईड्रो प्रोजैक्‍ट प्राधिकरण-। भुटान (1200 मै.वा.)

    जुलाई, 2011 से अक्‍तूबर 2014 तक एवं एकबार पुन: प्रतिनियिुक्‍ति पर गए व टेंडर दस्‍तावेज तैयार करने विनिर्देशों, ई एण्‍ड एम पैकजो के लिए अनुबंध का मूल्‍यांकन और अंतिम रूप देने, ई ओ टी क्रेनों का निर्माण, पहला और दूसरा एंबेंडमैंट कंपोनेंटस और इलैक्‍ट्री- मकैनिकल पैकजों का निरीक्षण कार्य करने में सहभागी रहे।

    उन्‍होंने 200 मैगावाट ईकाइयों की रेटिंग के लिए जनरेटर के साफ्ट के निरीक्षण के लिए चीन का भी दौरा किया। 400 किलोवाट गैस इंसुलेटेड सिस्‍टम (जीआईएस) इन्‍वेटमेंट प्रमोशन सैल पीएसपीसीएल, पटियाला की और से निरीक्षण करने के लिए जापान और दक्षिण कोरिया का दौरा किया। उन्‍होंने जुलाई 2017 तक बायोमास, सोलर और हाईडल प्रोजैक्‍टस के पावर पर्चेज एग्रीमेंट (पीपीए) का अनुभव प्राप्‍त किया। 

  • इंजी. बिक्रमजीत सिंह सभ्रवाल

    इंजी. बिक्रमजीत सिंह सभ्रवाल मुख्‍य अभियन्‍ता (प्रणाली परिचालन)

    इंजी. बिक्रमजीत सिंह सभ्रवाल

    इंजी. बिक्रमजीत सिंह सभ्रवाल

    मुख्‍य अभियन्‍ता (प्रणाली परिचालन)

    ईo बिक्रमजीत सिंह सभरवाल ने 01-04-2020 को मुख्य अभियंता / सिस्टम ऑपरेशन, बीबीएमबी (वि.सं.) चंडीगढ़ के पद का कार्यभार ग्रहण किया। इससे पहले, अधिकारी मुख्य अभियंता / उत्त्पादन , बीबीएमबी (वि.सं.), नंगल, निदेशक / सुरक्षा, परामर्श और सुरक्षा बोर्ड सचिवालय, बीबीएमबी चंडीगढ़ में कार्यरत थे।

     शैक्षणिक

    वर्ष 1986 में बीई/मकैनिकल (वर्ष 1987 बैच से पीएसपीसीएल में कार्यरत) इनके पास विद्युत एवं सिंचाई क्षेत्र का दीर्घकालीन अनुभव है । बीबीएमबी के सचिवालय में (मानव संसाधन विकास) क्षेत्रीय अभिकल्‍प कार्यालयों, पीएसपीसीएल एवं पंजाब सिंचाई विभाग के वितरण विंग में सेवाएं प्रदान की है।

    बीबीएमबी (परामर्शी) हेतु संयुक्‍त राष्‍ट्र फ्रेमवर्क कैन्‍वैन्‍शन के अंतर्गत जलवायु परिवर्तन पर स्‍वच्‍छ विकास प्रबंधन (सीडीएम) का कार्य किया एवं सीडीएम से संबंधित कार्यों के लिए संसाधन व्‍यक्तित्‍व रहे ।

    पिछले 12 वर्षों के लिए बीबीएमबी में श्रेणी 3 व श्रेणी 4 कर्मचारियों के सभी कर्मचारियों की भर्ती के सौंपे गये कार्य का कुशलतापूर्वक निर्वहन किया ।

    पुरस्‍कार

    कारपोरेट ग्रीनटैक एचआर उत्कृष्‍टता पुरस्‍कार संबंधी विस्‍तृत नामिनेशन के कागजात न केवल जमा करवाने एवं उन पर विस्‍तार से चर्चा हेतु बीबीएमबी का प्रतिनिधित्‍व किया । परिणामस्‍वरूप बीबीएमबी को कारपोरेट ग्रीनटैक सीएसआर पुरस्‍कार-2011 के लिए प्रशिक्षण उत्‍कृष्‍टता एवं सर्वश्रेष्‍ठ रणनीति श्रेणी में गोल्‍ड शील्‍ड प्रदान की गयी । 12वें वार्षिक ग्‍लोबल पर्यावरण ग्रीनटैक पुरस्‍कार अक्‍तूबर-2011 में उत्‍पादन (जल विद्युत) हेतु चौथे भारतीय वार्षिक पावर अवार्ड श्रेणी, पावर सैक्‍टर में गोल्‍ड शील्‍ड प्रदान की गयी ।

     

                    

  • इंजी. विपिन गुप्ता

    इंजी. विपिन गुप्ता मुख्‍य अभियन्‍ता (पारेषण प्रणाली)

    इंजी. विपिन गुप्ता

    इंजी. विपिन गुप्ता

    मुख्‍य अभियन्‍ता (पारेषण प्रणाली)

    इंजी. विपिन गुप्ता (एचवीपीएनएल केडर) ने मुख्य अभियंता/पारेषण प्रणाली, बीबीएमबी, चंडीगढ़ के पद का कार्यभार दिनांक 24.03.2021 को ग्रहण किया।
    योग्यता
    वर्ष 1989 में REC कुरुक्षेत्र से B.Sc Engg/E&CE पास की।
    अनुभव
    इन्होने अपने career की शुरुवात मात्र 21 वर्ष की आयु में 1989 में erstwhile HSEB से की।
    इनके पास बिजली क्षेत्र में विभिन्न पदों पर कार्य करते हुए 31 साल से अधिक का कुशल अनुभव है, जिसमे विद्युत ताप गृह का संचालन और रख-रखाव, विभिन्न सब-स्टेशन का संचालन और रख-रखाव, सब-स्टेशनों की Metering और Protection, नई परियोजनाओं की क्रियान्वयन का पर्यवेक्षण, सब-स्टेशनों और पारेषण नेटवर्क का निर्माण, EHV Transformer की मरम्मत और पर्यवेक्षण का गहरा व कुशल अनुभव, NCR क्षेत्र में 66kV और उससे अधिक capacity वाले सब-स्टेशन और पारेषण नेटवर्क के Design और Planning का अनुभव तथा पारेषण प्रणाली से संबन्धित कार्यो के अनुबंध/निविदाओं को अंतिम रूप देना शामिल है।
    जर्मनी और चाईना में पारेषण प्रणाली के विभिन्न Materials एवं equipments के निरक्षण का अनुभव भी है।

Back to Top