भाखड़ा ब्यास प्रबन्ध बोर्ड

भाखड़ा ब्यास प्रबन्ध बोर्ड
सर्च

सिंचाई खण्‍ड

सदस्‍य (सिंचाई) के उपरान्‍त संगठनात्‍मक ढांचे में आगे मुख्‍य अभियन्‍ता आते हैं, जो सम्‍बन्धित कार्यालयों के मुखिया होते हैं और अधीक्षण अभियन्‍ता / निदेशक / वारिष्‍ठ कार्यकारी अभियन्‍ता / उप-निदेशक तथा सहायक अभियन्‍ता इनकी सहायता करते हैं । सिंचाई खण्‍ड में निम्‍नलिखित प्रमुख अभियन्‍ता / मुख्‍य अभियन्‍ता हैं :

  • इंजी. गुलाब सिंह नरवाल

    इंजी. गुलाब सिंह नरवाल मुख्‍य अभियन्‍ता (ब्‍यास सतलुज लिंक)

    इंजी. गुलाब सिंह नरवाल

    इंजी. गुलाब सिंह नरवाल

    मुख्‍य अभियन्‍ता (ब्‍यास सतलुज लिंक)
    डॉ. गुलाब सिंह नरवाल ने 30.06.2017 को ब्‍यास सतलुज लिंक  परियोजना बीबीएमबी सुंदरनगर, हिमाचल प्रदेश  में  मुख्य अभियंता  का  कार्यभार संभाला। इनका जन्म जिला हिसार (हरियाणा) में 03 मार्च 1969 को हुआ था। ये 1998 में संघ लोक सेवा आयोग के स्‍वरूप अतिरिक्‍त अधीशाषी अभियन्‍ता, क्‍लास-1 के रूप में हरियाणा के सिंचाई विभाग में नियुक्‍त हुए। इन्‍हें विभाग द्वारा  1999 में कार्यकारी अभियंता, 2008 में अधीक्षण अभियंता और 2012 (मानी गई तारीख) को मुख्य अभियंता के रूप में पदोन्नत किया गया। इन्होंने राजकीय बहुतकनीकी कालेज झज्जर हरियाणा से प्रोडक्शन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया। बाद में इन्‍होने बीई (सिविल), बीई (मेक), एम.टेक (आईआईटी दिल्ली), एलएलबी, एलएलएम, एमबीए (ऑपरेशंस मैनेजमेंट), एम फिल (प्रबन्‍धन), एमएससी (पर्यावरण), एमएससी (क्‍म्‍पयूटर सांईस), एमसीए, एमए (लोक प्रशासन) और पीएचडी (वनस्पति विज्ञान) भी किया। इन्‍हे सिंचाई और जल संसाधन परियोजना में योजना, डिजाइन और निर्माण में 20 से अधिक वर्षों का अनुभव है। इन्होंने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पत्रिकाओं में 8 तकनीकी पत्र प्रस्तुत किए हैं तथा IWRM विषय पर वर्ष 2017 में सिंगापुर में भारत का प्रतिनिधित्व किया। ये 11 राष्ट्रीय इंजीनियरिंग संस्थानों / समिति के आजीवन सदस्य हैं। ये इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स (इंडिया) के फैलो सदस्‍य भी हैं। इन्‍हे विभाग ने इनकी उत्कृष्ट सेवा के लिए कई प्रशंसा पत्र दिए। इनके पास उत्कृष्ट निर्विवाद और निर्दोष पेशेवर सेवा रिकॉर्ड है। इन्होंने अपने विशिष्ट करियर के दौरान विभाग को नई उचांइयों पर पहुंचाया और लिफ्ट नहर इकाई, यमुना जल सेवा इकाई, भाखड़ा जल सेवा इकाई जैसी कई परियोजनाओं में सेवा करके विभाग में योगदान दिया। इन्होंने एक वर्ष के लिए राज्य सतर्कता ब्यूरो हरियाणा की भी सेवा की। इन्होंने अपने व्यक्तिगत प्रयासों के कारण पानी कमांड के आख़िरी छोर तक पहुंचाया। ये सुफी गज़लों के अच्छे श्रोता और गायक हैं। ये हमेशा वृक्षारोपण और बागवानी में व्यस्त रहते हैं तथा यात्रा का आनंद लेते हैं।

     

       

     

  • इंजी. राज सिंह राठौर

    इंजी. राज सिंह राठौर मुख्‍य अभियन्‍ता (ब्‍यास बांध)

    इंजी. राज सिंह राठौर

    इंजी. राज सिंह राठौर

    मुख्‍य अभियन्‍ता (ब्‍यास बांध)
  • इंजी. ए.के.अगरवाल

    इंजी. ए.के.अगरवाल मुख्‍य अभियन्‍ता (भाखडा बांध)

    इंजी. ए.के.अगरवाल

    इंजी. ए.के.अगरवाल

    मुख्‍य अभियन्‍ता (भाखडा बांध)
Back to Top